Tuesday, 20 November 2012

Sali ke sath rangin ratein bitai

मेरे अब तक के अनुभव के आधार पर आज तक मैंने कई कॉलगर्ल, रिश्तेदारी में, पत्नी, गर्लफ्रेण्ड आदि के साथ चुदाई कार्यक्रम किये,
Sali Ke Sath Rangin Ratein मगर चुदाई कार्यक्रम के दौरान ना तो उनके मुंह से कोई अश्लील भाषा निकली और ना ही मेरे मुंह से ! तो कैसे मान लूं कि चोदते वक्त अगर अश्लील भाषा का प्रयोग किया जाये तो औरत और मर्द दोनो में उत्तेजना बढ़ती है। अश्लील भाषा का प्रयोग चोदते समय तो कतई नहीं करना चाहिये, उत्तेजना बढ़ने के बजाय हो सकता है कि शिथिलता आ जाये।

खैर ....... दोस्तो, आज नई कहानी लेकर आया हूँ !

मेरी पत्नी घर के काम काज के मामले में बहुत ही आलसी है, कभी कभी मुझे उस पर बहुत ही गुस्सा आता है, मगर फिर भी मैं जानबूझ कर उसे कुछ नहीं कहता।

मेरे ससुराल में शादी थी तो मुझे भी वहां जाना था। वहां पर बहुत से रिश्तेदार आये थे, वहां मेरी पत्नी ने अपनी एक रिश्तेदार से मिलाते हुए कहा- इसका नाम चांदनी हैं और हम इसको परीक्षा के बाद अपने पास ही रखेंगे।

जब मैंने उस लड़की को देखा तो सच में देखता रह गया। उसके बोबे क्या माशा अल्लाह, और काया गजब अति सुन्दर काया थी उसकी, कि जो भी उसको देखे, देखता ही रह जाये।

अचानक मेरी पत्नी की आवाज ने मुझे झकझोर दिया कि कहां खो गये।

मैंने कहा- कहीं नहीं।

मेरी पत्नी ने मुझे धीरे से कहा- अगर तुम नहीं चाहते उसको अपने यहां पढ़ाना ! तो मैं मना कर देती हूँ।

मेरे मन में तो लड्‌डू फ़ूट रहे थे, मैं कब मना करने वाला था, मैंने कहा -नहीं-नहीं मुझे कोई एतराज नहीं।

जब तक मैं ससुराल में रहा तब तक मैं मजाक ही मजाक में उसके स्तन दबा देता, या नाजुक अंगों से छेड़छाड़ कर देता तो वह हंसकर भाग जाती।

जब मैं वापस अपने शहर आया तो मुझे उसकी याद आने लगी, मगर मैं अपने मुंह से कुछ नहीं कहना चाहता था क्योंकि पत्नी को शक होने का डर था। पर ऊपर वाला शायद एक बार फिर मुझ पर मेहरबान था।

मेरी पत्नी ने ही आगे होकर उसके शहर जाकर उसे लाने के लिये कहा। मेरा मन तो गार्डन-गार्डन हो गया।

मैं व मेरी पत्नी उसके शहर गये और उसे ले आये। अब तो बस मौके की तलाश थी। वाह री किस्मत मेरी पत्नी को फिर अपने ससुराल २-४ दिन के लिये जाना था। पहले तो मेरी पत्नी ने कहा- मैं चांदनी को भी साथ ले जाती हूँ। फिर उसने खुद ही विचार बदल दिया कि वह बेकार परेशान होगी, २-४ दिन की ही तो बात है। मैं और चांदनी मेरी पत्नी को छोड़ने सुबह ६ बजे ही रेलवे स्टेशन गये और उसे छोड़ कर वापस आये।

चांदनी ने आते ही कहा- जीजू चाय पीकर जाना !

मैंने उसका हाथ पकड़ कर बिस्तर पर खींच लिया और मस्ती करने लगा। यह सब ऊपर की मस्ती मजाक तो मेरी पत्नी के सामने भी करता था, मगर आज तो बस उसे चोदने का मन बना हुआ था।

मैंने कहा- चांदनी, चाय-वाय बाद में बनाना, आओ थोड़ी देर बैठो तो।

उसने कहा- जीजू, क्या बात है, विचार तो नेक हैं, आपके?

मैंने कहा- विचार तो आपके जीजू के हरदम ही नेक होते हैं, बस आप ही नहीं समझती।

और मैं अपने हाथों को उसके शरीर के नाजुक अंगों पर फिराने की कोशिश करने लगा। मैंने उसके वक्ष को पीछे से हल्के से दबाया तो वह कुनमुना गई और छुटने की नाकामयाब कोशिश करने लगी। आज मुझे लग रहा था कि चांदनी भी मुझसे चुदवाने को बेताब है। मैंने जब उसकी तरफ से मौन इशारा समझा तो अपने हाथों को धीरे-धीरे उसके नाभि-मण्डल पर ले गया और मेरे होंठों ने भी अपना काम चालू कर दिया था। मेरी तरफ उसकी पीठ होने के कारण मैंने उसकी गरदन को अपनी तरफ घुमाकर उसके होंठों का रसस्वादन करने लगा। अब मेरा हौंसला भी बुलन्द होने लगा।

मैंने उसके कुर्ते को थोड़ा ऊपर किया तो उसने कहा- नहीं जीजू यह सब नहीं ! अगर किसी को मालूम हो गया तो?

मैंने चांदनी को समझाते हुए कहा- देखो जान ! इस घर में मेरे व तुम्हारे अलावा कोई नहीं है, तो किस को मालूम होगा और कौन बतायेगा कि हमने क्या किया।

चांदनी मेरा मतलब समझ गई और चुप हो गई। अब मैं भी बिन्दास हो गया और चांदनी की कुर्ती के अन्दर हाथ डालकर बोबों को दबाने व सहलाने लगा। चांदनी का पहला चुदाई कार्यक्रम था तो उसमें डर और मजा दोनों का समावेश था।

उसके मुख से रह रहकर सिसकारियाँ निकल रही थी- आ....ह........ जीजू...............

मैंने चांदनी की कुर्ती को एक झटके में शरीर से अलग कर उसकी ब्रा को खोल दिया और बोबों को मुँह में लेकर चूसने लगा।

चांदनी मदहोशी में आंखे बंद किये ही कहने लगी- जीजू ! ऐसे क्या करते हो !

तो मैंने कहा- चांदनी अभी तो बाकी है ऐसे-वैसे सब करेंगे, तुम बस महसूस करो और मजा लो।

बोबों को चूसते हुए उसके नाभि-स्थल तक होंठों को फिराता हुआ लाया, नाभि से नीचे जाना चाह रहा था, मगर चांदनी का नाइट पायजामा और पेंटी दीवार बन कर खड़े थे। इधर चांदनी मेरी पीठ को सहला रही थी। मैंने चांदनी की पैंटी और पायजामा एक बार में ही खोल दिया और अपना मुँह चांदनी की गुलाबी चूत पर ले गया, चांदनी की गुलाबी चूत पर नाम मात्र के मुलायम बाल थे जो उसकी गुलाबी चूत की पहरेदारी कर रहे थे।

मैंने अंगूठे से उसके पहरेदारों को एक तरफ किया और उसकी गुलाबी चूत को अपनी जीभ से चाटने लगा। उसकी सिसकारियाँ लगातार जारी थी- जी......जू..........ये क्या..........कर रहे....... हो..........आ.हहहहहह जी.....जू.........मजजजजजा आाा ररररहा हैं औररररर जोर सेससस चाटटो नााा

गुलाबी चूत से रिस रिस कर नमकीन पानी निकल रहा था, उसे चाटने में मुझे भी मजा आ रहा था और शायद अब चांदनी को भी मजा आने लगा था। चांदनी अपनी गांड उठा उठा कर मुखचोदन करा रही थी।

आधे घण्टे तक चूत चाटने के बाद हमारे लण्ड महादेव भी हुंकारने लगे और अपनी उपस्थिति दर्ज कराने को व्याकुल होने लगे। मैंने अपने कपड़े उतारे और अपना लण्ड निकाल कर चांदनी के हाथ में दे दिया।

वह लण्ड देखते ही चिल्ला उठी- ये क्याऽऽऽ ?

मैंने कहा- लण्ड।

बोली- इतना बड़ाऽऽ? मैं मर जाऊंगी जीजू ! नहीं मुझे छोड़ दो !

मैंने उसे समझाया- जानू, तुम्हारी जीजी भी तो इसे लेती हैं, वो तो नहीं मरी। इसे मुँह में लो ! तुम्हें मजा आयेगा !

वह ना ना करती हुई मेरे लण्ड को अपने मुँह में लेने लगी। धीरे धीरे आधा लण्ड मुँह में लेने के बाद मैंने उसके मुंह को चोदना चालू कर दिया। लण्ड चूसने में अब चांदनी को भी मजा आ रहा था। वो अब लण्ड को लॉलीपाप की तरह चूसने लगी। मैं पॉजीशन बदलते हुए ६९ की पॉजीशन में आ गया और अब वो मेरा लण्ड और मैं उसकी चूत चाटने लगा। करीब २०-२५ मिनट में चांदनी दो बार स्खलित हो गई और मैं अब होने वाला था।

और मैं........... ये ........गया वो गया......... और अपना सारा माल उसके मुँह में उड़ेल दिया। और फिर आपस में चिपक कर हांफने लगे।

थोड़ी देर बाद अचानक अपने लंड पर किसी के स्पर्श से मैंने आंखे खोली तो देखा कि चांदनी उससे खेल रही है और उसे खड़ा करने की कोशिश कर रही है। मेरे आंख खोलते ही मुझे अर्थपूर्ण दृष्टि से देखा। मैं समझ गया कि अब मेरी साली को जीजू से क्या चाहिये।

मेरा लण्ड कब पीछे रहने वाला था, उसने तुरन्त सलामी ठोक दी और चूत पर जाकर पहरेदारों से भिड़ गया। आखिर जीत मेरे लण्ड की हुई और सारी दीवारें तोड़ता हुआ चांदनी की अनछुई गीली, चिकनी चूत में धीरे-धीरे प्रवेश करने लगा क्योंकि मुझे मालूम था कि चांदनी पहली बार चुदने वाली हैं।

जैसे ही लण्ड ने संकरे रास्ते में प्रवेश किया, चांदनी ने रोक दिया- नहीं जीजू ! दर्द हो रहा है ! और चिल्लाने लगी।

मैंने सोचा अगर चांदनी की बातों में आ गया तो सारा किया धरा रह जायेगा और मैंने तुरन्त चांदनी के होंठों पर कब्जा कर एक लण्ड की तेज ठोकर लगाई और उसकी चिल्लाहट को होंठों से दबा दिया।

मैंने महसूस किया कि लण्ड पर खून का फव्वारा छुट गया और वह हाथ पैर मारने लगी, मगर मैं अपने हाथों से उसके स्तनों को सहलाते हुए और होंठों से अब गाल, कान, गरदन वगैरह चूम कर उसे दिलासा देने लगा और धीरे धीरे लण्ड को अंदर बाहर करने लगा। उसका प्रतिरोध अब कम होता नजर आया और अब शायद उसे भी मजा आने लगा इसलिये गांड उठा उठा कर मेरा साथ देने लगी और मुंह से अनाप शनाप आवाजें निकालने लगी- जी......जू चो.......दो मुझे.............. चोद...........डालो ! वगैरह वगैरह।

लण्ड और चूत की लड़ाई चालू हो गई थी, या यूं कहिये आपस में शास्त्रीय संगीत की प्रतिस्पर्धा चालू हो गई हो। क्योंकि लण्ड जैसे ही अन्दर जाता तो तबले पर पड़ने वाली थाप की आवाज आती और चांदनी के मुँह सिसकारियाँ निकलती। मतलब कि उस वक्त सरगम बज रही थी।

१५-२० मिनट बाद मैंने चूत में लण्ड डाले डाले ही उसे घोड़ी बनाया और फिर चालू हो गया। इस दरम्यान वो २-३ बार झड़ चुकी थी मगर मेरा अभी ठिकाना नजर नहीं आ रहा था।

मगर घोड़ी की पोजीशन में आते ही मुझे लगने लगा कि अब ज्यादा देर नहीं टिक सकूंगा और मैं भी १५-२० धक्कों के बाद उस पर ढेर हो गया और अपना सारा माल उसकी कोमल चूत में बहा दिया।

देर बाद जब हम उठे तो उसकी नजर बिस्तर पर गई जहां खून ही खून और वीर्य उसका और मेरा दोनों का पड़ा था, जिसे देख कर वह डर गई और रोने लगी- जीजू ! यह क्या हुआ ? इतना खून निकल गया।

मैंने कहा- साली साहिबा ! यह सब तो पहली बार में होता ही है ! और समझाने लगा।

मैंने उस दिन ऑफिस फोन कर छुट्‌टी ले ली और उस दिन और उसके बाद जब तक मेरी पत्नी नहीं आई तब तक मैं चांदनी को लगातार चोदता रहा कभी घोड़ी-कुतिया तो कभी किचन में एक टांग पर। कुल मिलाकर चांदनी के साथ बिताये वो हर पल आज भी मेरी आंखों के सामने आते हैं तो बस उसे चोदने की इच्छा जागृत हो जाती है।

उसके बाद हमें जब भी दिन में, रात में या जब भी मौका मिलता हम एक हो जाते। अब वो हमारे साथ नहीं रहती ! वो अपने घर चली गई, मगर उसकी याद अब भी दिल में बाकी है।

7 comments:

Sapan Singh said...

अनेक पुरुषों पर वायग्रा का कोई असर नहीं
रात्री में महिलाओं को पसंद आने वाली यौन क्रियाएं
माँ बनने के लिए 'पुरुष' की जरूरत नहीं
3 बातें जो बनाए सेक्स जीवन को बेहतर
सेक्स के बाद बातचीत, कितनी उपयोगी
"सेक्स" का एक दिन! क्या, कैसे और क्यों
बढ़ रही है जानवरों के साथ सेक्स की आदत!
रंगीन तबीयत के पुरुषों के लिए बुरी खबर
पूरे जीवनकाल में सेक्स का मजा सिर्फ तीन घंटे
"चुम्बन" के समय ध्यान देने वाली 7 बातें
अच्छे सेक्स जीवन के लिए लाभदायक है "मोटापा"
फोरप्ले के दौरान की जाने वाली 5 आम गलतियाँ
'6 आफ्टर प्ले' सेक्स के बाद भी रोमांस
ओरल सेक्स के प्रति बढा महिलाओं का झुकाव
45 प्लस महिला के चुस्त-दुरुस्त रहने के टिप्स
'वाइब्रेटर' और 'ओबामा सेक्स डॉल' की धूम
हर पांच में से दो महिलाए करती है मजबूरन सेक्स
लिव-इन-रिलेशन को एंज्वॉय करनें का तरीका
महिलाओं के चरम-आनंद की 5 बातें
केसे करे शीघ्रपतन से बचाव
महिलाओं को चुंबन, पुरूषों को सेक्स की चाहत
लड़कियां चाहती हैं यौन शिक्षा
किशोरी के कौमार्य का पर लगा सट्टा
खतरनाक होती है खूबसूरत महिलाएँ
पियक्कड़ महिलाओं से रहें सावधान
महिलाएं होती है कुत्तों के ज्यादा करीब
विवाह पूर्व सेक्स में ग्रामीण युवा आगे
भारतीयों को चाहिए छोटा कंडोम
नशा बढ़ाता है सेक्स क्षमता
आखिर क्या है सेक्स करने का सही समय
शक्तिशाली पुरुषों को पसंद करती है महिलाए

Sumi Sarkar said...

SEXY NAUGHTY GIRLS 69



SEXY HOT BABE




NAUGHTY GIRLS 69




SEXY PORN STAR



SEXY NAUGHTY GIRLS 69



SEXY NAUGHTY GIRLS 69




SEXY NAUGHTY GIRLS 69




SEXY NAUGHTY GIRLS 69

»………… /´¯/)
……….,/¯../ /
………/…./ /
…./´¯/’…’/´¯¯.`•¸
/’/…/…./…..:^.¨¯\
(‘(…´…´…. ¯_/’…’/
\……………..’…../
..\’…\………. _.•´
…\…………..(
….\…………..\.

Hindi Choti said...

Hindi sexy Kahaniya - हिन्दी सेक्सी कहानीयां

Chudai Kahaniya - चुदाई कहानियां

Hindi hot kahaniya - हिन्दी गरम कहानियां

Mast Kahaniya - मस्त कहानियाँ

Hindi Sex story - हिन्दी सेक्स कहानीयां



Nude Lady's Hot Photo, Nude Boobs And Open Pussy

chudai ki hindi kahani

welcome to chudai kahani me

Visit best sexy hindi story

Hindi sex kahani dekhiye eiha

Sexy kahani ke world me apka soyagat hai



Hindi sexy Kahaniya - हिन्दी सेक्सी कहानीयां

Chudai Kahaniya - चुदाई कहानियां

Hindi hot kahaniya - हिन्दी गरम कहानियां

Mast Kahaniya - मस्त कहानियाँ

Hindi Sex story - हिन्दी सेक्स कहानीयां



Nude Lady's Hot Photo, Nude Boobs And Open Pussy

chudai ki hindi kahani

welcome to chudai kahani me

Visit best sexy hindi story

Hindi sex kahani dekhiye eiha

Sexy kahani ke world me apka soyagat hai



sexy girl said...

your place really too good . i am your fan .
i wish you will upload more ..............
my place is also good hope you like to see it.

new porn video

hot girl sex video

anime sex video

anal sex video

dirty sex video

arab sex video

amateur sex video

sunny leone sex video
new porn video

hot girl sex video

anime sex video

anal sex video

dirty sex video

arab sex video

amateur sex video

sunny leone sex video

Sunita Prusty said...


Latest Hindi Sex KahaniFrom Bhauja.com
hindi sex storiesodia sex stories

JAWAAN JISM KI GARMI Hindi Sex story

Hostel Room Me Meri Seal Tooti

Nangi KarkeChachiKoChoda

Bhai Behan kaPyarSagi Behan kiChudaikiKahani

Meri KhudkiBiwi Ki ZaberdastChudai

Friend Ki Sister KoGharBulakarMajaLiya

Garib KePatniKoChoddala

Meri Teacher Miss Niharika Ki Mast Chudai

Swayamvar KaSach – Hindi Sex Story

Biwi Ho ToAisi

Us RaatEkAjnabiBanaMeraPati – Hindi Sex story

Ek Khade Land Ki Kartut – Longest Expression

Bhai Ki ShaliKoChodKar Satisfy Kiya

Meri PhuddiKoRakhyas Ne Choda – Hindi Sex

Bete Ki Teacher Ne ChudTeHuiBete Ne Dekha

Sola Saal Ki Sali – hindi Sex Story

Shadi SudaRubbyBhabiKoPataKeChoda

आंटी की भूखी चूत (Aunty Ki BhukhiChut)

Pyar Se TodiMeri Girlfriend Ki Seal

Modelling Ke Bad Behan Ki Pahli Birthday

Mumbai Me Ajnabi Foreigner KoPataKeChoda

Gaaw Ki Bhabhi Ki Gaand Mari Raat Me

S MUKHERJEE said...


शिक्षिका की चुत में लंड दिया

बॉस की बीवी को ऑफिस में चोदा

मकानमालिकिन की बेटी को लंड दिया

सील तोड़ कर दिया पहली चुदाई का अनुभव

पारुल की मस्त चुदाई



प्यून ने चोदा मेडम को - हिन्दी सेक्सी कहानीयां

दीदी की चूत कुंवारी थी - चुदाई कहानियां

पायल बहन की सिल तोड़ी- हिन्दी गरम कहानियां




Anuj Malhotra said...

Sexy girls aunties hot bhabhies & unsatisfied womens just send sms on my whatsapp no. Full guranty of sex satisfaction real sex chat sex oral sex what ever ur requirement is. just sms me on my whatsapp no.. 09910574801 n my mail id is sexboom05@gmail.com i m on line 24hrs avilable. I m from DELHI Age limit no bar 18 to 50. Ur satisfaction is much important. Dont hasitaye just pick ur ph n whatsapp or mail jo bhi apko acha lage kare me. I m always redy to serve my sweet ladies. But plss Only swet ladies. Boys plzzz dont disturb.

Post a Comment